While in our childhood, we were prevented for certain combinations of food. I never understood why, but Mom always told that these combinations are deadly. For example, ghee and honey together, in the same ratio, this becomes poison. If you take them separately, they are very good to health. Today, I am sharing some of these combinations, that should not be taken together.

  • With milk:
    • Curd, table salt, coconut, sour fruits
    • Gur should not be dissolved with milk
    • Oily dishes
    • Imli, Kharbooja, Turai
  • With Curd:
    • Kheer, milk, cheese, banana, kharbooja
  • With Ghee:
    • HONEY
    • Cold milk, cold water
  • With Honey:
    • GHEE
    • Grapes, hot water
  • With Rice:
    • Vinegar
  • With tea:
    • Cucumber, cold fruits, cold water

Additional tip:

Food kept in bronze, brass or copper vessels for long time becomes poisonous. Avoid keeping food in in the vessels made up of bronze, brass or copper. You can cook the food in these vessels but store it in some other stuff like steel vessel.

[tweetmeme source=”yaneshtyagi” only_single=”false”]

पेट के कीडे

क्या चाहिए

  1. सेम के पतो का रस – एक बडा चम्मच
  2. शहद  – एक बडा चम्मच

सेवन विधि

सेम के पत्तों को पीस कर उनका रस निकल लें. कम से कम इतने पत्तें अवश्य लें कि एक बड़ा चम्मच रस निकल जाये. अब इसमें सामान मात्रा में शहद मिला लें. दोनों को एक  कटोरी में मिक्स कर लें.

उपरोक्त रस को दिन में तीन बार – प्रातः, मध्यान्ह एवं सायं सेवन करें. इससे चार पांच दिन में पेट के कीडे मरकर बहार निकल आयेंगे.

नोट: इस रस को बनाकर न रखें. जब भी इस्तेमाल करना हो तो ताजे पत्तों का रस निकलकर ही इस्तेमाल करें.

ग्लिसरीन से मुंह के छाले का उपचार

मुंह में ग्लिसरीन लगा कर मुंह को निचे कर के बैठ जायें. मुंह को खुला रखना ज़रूरी है क्योंकि मुंह से जो लार टपकेगी उसी से छाले ठीक होंगे. कम से कम पॉँच मिनट तक ऐसे ही बैठे रहें.

लक्षण

मुंह के अन्दर गाल की त्वचा जगह जगह से फूल जाती है और उसमे पानी जैसे चीज़ भर जाती है. कभी कभी होंठ की अंदरूनी त्वचा पर भी इस तरह के छाले पड़ जाते हैं, कुछ खाने पीने पर इसमे लगता है.

उपचार

ज्यादातर छाले अपने आप ही ठीक हो जाते हैं. पर यदि ज्यादा परेशान कर रहे हो तो ऊपर बताया गया उपचार कर सकते हैं.

अन्य उपचार

दही से मुंह के छालों का उपचार

मुंह के छाले की दवा

मुंह में छाले हो जाने पर छालो के ऊपर थोड़ा सा दही लगा लें. एसा करने पर छालो में तुंरत आराम मिलता हँ. इसके साथ ही केले को दही में मिलाकर दिन में दो बार खाने से आराम मिलता है.

लक्षण

मुंह के अन्दर गाल की त्वचा जगह जगह से फूल जाती है और उसमे पानी जैसे चीज़ भर जाती है. कभी कभी होंठ की अंदरूनी त्वचा पर भी इस तरह के छाले पड़ जाते हैं, कुछ खाने पीने पर इसमे लगता है.

उपचार

ज्यादातर छाले अपने आप ही ठीक हो जाते हैं. पर यदि ज्यादा परेशान कर रहे हो तो ऊपर बताया गया उपचार कर सकते हैं.

अन्य उपचार

ग्लिसरीन से मुंह के छाले का उपचार

गैस व अफारा होने पर पानी में हींग का लेप बना कर नाभि पर लगायें. इससे तुंरत आराम मिलता है. यह नुस्खा बच्चों के लिए भी बहुत उपयोगी है. क्योंकि बच्चों को दवाई लेने या गोली खाने में दिक्कत होती है.

जुखाम और नजले के बाद यदि कफ ज्यादा बन रहा हो तो एक कप चाय में एक चम्मच देसी घी डाल कर दिन में दो तीन बार पियें| ऐसा करने से आपको आराम मिलेगा लेकिन यदि जुकाम के साथ खासे हो तो ऐसा न कर